Anthology #3: A Sack Full Of Tales (Hindi)

Title: पोटली कहानियों की: हैरान कर देने वाली कहानियाँ

Summary:

पोटली कहानियों की
अद्‍भुत कर देने वाली कहानियाँ
पोटली कहानियों की – अद्‍भुत कर देने वाली कहानियाँ

***
फेरवेल गिफ्ट

मयांक, अमीत और अंजलि तीन माह क़बल ही एक दूसरे से मिले थे,जब वह शेफ़ील्ड शॉर्ट टर्म असाइनमनट पर आए थे। बहुत कम वक़्त में उनकी दोस्ती बहुत गहिरी हो गई थी। एक छोटी सी कहानी उस दिन की जब उनमें से एक का शेफ़ील्ड में आख़िरी दिन था। दोस्ताना छेड़छाड़ थोड़ी ज़्यादा ही आगे बढ़ गई तो क्या हुआ?
कुछ लोगों को मज़ाक़ करने और यूँही चिढ़ाने की आदत होती है। इस के लिए वह मुसलसल किसी टार्गेट की तलाश में रहते हैं। ख़वास इस से दो दूसरों की दिल-आज़ारी ही क्यों ना हो। ये दोस्ताना छेड़-छाड़ अगर बढ़ जाये तो नाक़ाबिल-ए-तलाफ़ी नुक़्सान भी हो सकता है। रिश्ता टूट भी सकते हैं।

यह कहानी पर्सनल अवलोकनों पर आधारित है। कुछ लोगों को मजाक करने और चिढ़ाने की आदत होती है, भले ही यह दूसरों को तकलीफ़ देती हो। अक्सर लोग दोस्ताना छेड़छाड़ से बचते नहीं हैं। यदि हद पार हो जाए, तो उम्मीद से बहुत अधिक चीज़ें बर्बाद हो सकती हैं।
***
कारपोरेशन की बस का एक सफ़र
हर किसी की ज़िंदगी में आसानी, लग्झरी और अच्छी ज़िंदगी का मअनी अलग होता है। लोग आम तौर पर अपने से बेहतर लोगों से ख़ुद का मुक़ाबला करते हैं। लेकिन कभी भी अपने से कमतर लोगों की तरफ़ ध्यान नहीं देते। ये कहानी एक ऐसी ही औरत के बारे में है। एक घंटे में कारपोरेशन की बस में सफ़र करने पर इस की सोच, उस का “अच्छी ज़िंदगी” के बारे में नज़रिया ही बदल गया और यही नहीं उस की ज़िंदगी की फ़िलोसफ़ी भी बदल गई।
ये किताब ज़ाती मुशाहदात पर मबनी है। उम्मीद है कि पसंद आएगी।

***
वहम

क्या कोई ऐसा है जिसकी ज़िंदगी में कभी डर या ख़ौफ़ ना रहा हो?
जिसने कभी वहम ना क्या हो?
जैसे कभी मुस्तक़बिल का कोई ख़दशा ना रहा हो?
ये एक ऐसी ही लड़की की कहानी है और किस तरह उसने अपने डर, ग़ैर यक़ीनी हालत से डील किया।
ये किताब ज़ाती मुशाहदात पर मबनी है। ये कहानी हक़ीक़त से दूर है। अगर आपको ऐसा लगता है कि ये आपकी कहानी है, तो आप भी कॉरपोरेट पोलीटिक्स की शिकार हैं।
***
ओपन डिस्कशन

***
माँ
यह कहानी भारत में अभी तक होने वाले ज़ुल्म – औरतों को ज़िंदा जलाने पर आधारित है। जहां बीवियों और बहुओं को जिंदा जला दिया जाता है ताकि ज्यादा अमीर, ज्यादा खूबसूरत, और कम उम्र नई दुल्हन लाई जाए।
यह भारत में एक और संजीदा विषय पर लिखी गई कहानी है। यहां बच्चे आए दिन अग़वा होते हैं। और फिर या तो बेच दिए जाते हैं। या ऑर्गन माफिया को दे दिए जाते हैं।
यह कहानी है जिस में यह बताया गया है कि लोग कैसे अपने प्रॉब्लम्स को एक कॉमन प्रॉब्लम बना देते हैं। और किस तरह लोगों के कपड़ों से उन की हैसियत का अंदाजा लगाते हैं।
यह कहानी है जिसमें बताया गया है के लोग कैसे अपना फ्रस्ट्रेशन पहली फुर्सत में दूसरों पर निकाल देते हैं।
यह कहानी है जिसमें बताया गया है कि हम कैसे अपना काम सही बताते हैं।
यह एक मां और बेटी की कहानी है।
यह इंडिया के गांव की जिंदगी पर कहानी है।
यह लघु कहानी सीरीज का पांचवा भाग है। इस सीरीज में छोटी-छोटी फर्दी या सामाजिक इशु पर कहानी लिखी जाती है। ये किताब ज़ाती मुशाहदात पर मबनी है। उम्मीद है कि पसंद आएगी।

For more books, please visit the amazon author page and google author page.


Preview:

 


Date published: 19th of November 2018

Genre: Contemporary/Relationships

Buy / read from: Amazon

 

 

Advertisements